वीडियो गैलरी

Date
Month
Year
District
Video Category


Previous12345...9091Next

18-19 जून 2018, स्व सहायता समूहों की महिला पदाधिकारियों को मिली विभिन्न कानूनों की जानकारी...

बस्तर, सरगुजा, रायपुर, धमतरी, रायगढ़ एवं बलौदाबाजार-भाटापारा जिलों की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों ने हमर छत्तीसगढ़ योजना के अंतर्गत अपने दो दिवसीय अध्ययन प्रवास के पहले दिन उपरवारा स्थित योजना के आवासीय परिसर में आयोजित होने वाले समूह चर्चा कार्यक्रम में हिस्सा लिया| कार्यक्रम में विकास विस्तार अधिकारी श्री जयंत कुमार मिश्र ने महिला पदाधिकारियों को हमर छत्तीसगढ़ योजना के अंतर्गत दिखाए जाने वाले विभिन्न स्थलों की जानकारी दी| उन्होंने बताया कि हमर छत्तीसगढ़ योजना का उद्देश्य आप पदाधिकारियों को रायपुर के विकास से रूबरू कराना है| जिससे की आप अपने गाँव जाकर अपने गाँव का विकास कर सकें साथ ही यहाँ मिली योजनाओं की जानकारी का लाभ हितग्राही को दिला सकें| कार्यक्रम में प्रभारी अधिकारी, हमर छत्तीसगढ़ योजना श्रीमती शिवानी श्रीवास्तव ने महिला पदाधिकारियों को पर्यटन मंत्रालय द्वारा प्रायोजित हुनर से रोज़गार तक प्रशिक्षण कार्यक्रम की विस्तृत जानकारी दी| श्रीमती शिवानी ने बताया कि कार्यक्रम में सम्मिलित प्रतिभागियों को खाद्य उत्पादन, खाद्य एवं पेय सेवा एवं हाउसकीपिंग पर 2 से 3 माह का निःशुल्क प्रशिक्षण दिया जाएगा| इसके लिए आप छत्तीसगढ़ टूरिज्म बोर्ड की वेबसाईट www.tourism.cg.gov.in पर जाकर आवेदन कर सकते हैं| विधिक सेवा प्राधिकरण के रायपुर पैनल अधिवक्ता श्री शाहिद लुधियानवी खान ने विधिक सहायता की जानकारी देते हुए बताया कि बहुत से मुद्दे ऐसे हैं, जिनका निपटारा आप चाहें, तो आपस मे सुलझा सकते हैं। जो लोग आर्थिक अभाव के चलते केस नहीं लड़ सकते हैं, उनके लिए विधिक सहायता क्लिनिक की व्यवस्था की गई है. श्री खान ने लोक अदालत, टोनही प्रताड़ना एक्ट, गरीबी उन्मूलन, आदिवासियों के अधिकारों के संरक्षण से संबंधित विधिक विभाग की विभिन्न योजनाओं के बारे में भी बताया| कार्यक्रम में विषय विशेषज्ञ के रूप में उपस्थित विकासखंड परियोजना अधिकारी श्री टी.सी जयसवाल ने महिला पदाधिकारियों को साक्षरता का महत्व बताते हुए साक्षरता मिशन पर चर्चा की|

18-19 जून 2018, बस्तर जिले की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों ने देखा “हमर छत्तीसगढ़"

गांव से शहर तक विकास का पैगाम ... हमर छत्तीसगढ़ योजना यानि प्रदेश के हर गांव में विकास का पैगाम, साथ ही क्षेत्र के बेहतर विकास के लिए प्रेरणा और ऊर्जा। राज्य के विभिन्न जिलों से आए पंच-सरपंच एवं अन्य प्रतिनिधि राजधानी एवं नया रायपुर के विकास कार्यों का अवलोकन करते हैं। साईंस सेंटर में विज्ञान के अविष्कारों से कुछ नया अनुभव मिलता है, विधानसभा और मंत्रालय में संसदीय प्रणाली तथा प्रशासनिक कामकाज के बारे में जानकारी मिलती है। भव्य क्रिकेट स्टेडियम देखना बेहद सुखद लगता है। फाइव-डी डोम थियेटर में प्रदेश के विकास और योजनाओं की झलक देखने को मिलती है। कृषि विश्वविद्यालय में खेती-किसानी से जुड़े प्रतिनिधियों के लिए जानकारी का खजाना है। बस्तर, सरगुजा एवं रायगढ़ जिले से अध्ययन-भ्रमण यात्रा पर आए पंचायत प्रतिनिधियों ने राजधानी एवं नया रायपुर के विकसित स्थलों का अवलोकन किया|

18-19 जून 2018, बलौदाबाजार जिले की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों ने देखा “हमर छत्तीसगढ़"

गांव से शहर तक विकास का पैगाम ... हमर छत्तीसगढ़ योजना यानि प्रदेश के हर गांव में विकास का पैगाम, साथ ही क्षेत्र के बेहतर विकास के लिए प्रेरणा और ऊर्जा। राज्य के विभिन्न जिलों से आए पंच-सरपंच एवं अन्य प्रतिनिधि राजधानी एवं नया रायपुर के विकास कार्यों का अवलोकन करते हैं। साईंस सेंटर में विज्ञान के अविष्कारों से कुछ नया अनुभव मिलता है, विधानसभा और मंत्रालय में संसदीय प्रणाली तथा प्रशासनिक कामकाज के बारे में जानकारी मिलती है। भव्य क्रिकेट स्टेडियम देखना बेहद सुखद लगता है। फाइव-डी डोम थियेटर में प्रदेश के विकास और योजनाओं की झलक देखने को मिलती है। कृषि विश्वविद्यालय में खेती-किसानी से जुड़े प्रतिनिधियों के लिए जानकारी का खजाना है। बलौदाबाजार-भाटापारा, धमतरी जिले से अध्ययन-भ्रमण यात्रा पर आए पंचायत प्रतिनिधियों ने राजधानी एवं नया रायपुर के विकसित स्थलों का अवलोकन किया|

13-14 जून 2018, समूह चर्चा कार्यक्रम...

हमर छत्तीसगढ़ योजना के अंतर्गत दो दिवसीय अध्ययन यात्रा पर नया रायपुर आई कांकेर, गरियाबंद, रायगढ़ एवं बलरामपुर- रामानुजगंज जिलों की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों ने योजना के आवासीय परिसर में समूह चर्चा कार्यक्रम में भाग लिया| कार्यक्रम में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के विकास विस्तार अधिकारी श्री जे.के मिश्र ने महिला पदाधिकारियों से केंद्र व राज्य सरकार द्वारा संचालित विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं पर विस्तृत चर्चा की| श्री मिश्र ने पदाधिकारियों को ग्रामसभा की बैठक से लेकर स्थाई समितियों की बैठक तक विषयों पर महत्वपूर्ण जानकारी दी| उन्होंने बताया कि वर्ष में 23 जनवरी, 2 अक्टूबर, 20 अगस्त एवं 14 अप्रैल को ग्राम पंचायत की अनिवार्य बैठक होती है| इस दौरान विभिन्न जिलों से आयीं महिला पदाधिकारियों ने अपने अपने अनुभव साझा किये| कार्यक्रम में सहायक विकास विस्तार अधिकारी श्री उदयराम कामड़े उपस्थित रहे|

13-14 जून 2018, बलरामपुर जिले की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों ने देखा “हमर छत्तीसगढ़"

गांव से शहर तक विकास का पैगाम ... हमर छत्तीसगढ़ योजना यानि प्रदेश के हर गांव में विकास का पैगाम, साथ ही क्षेत्र के बेहतर विकास के लिए प्रेरणा और ऊर्जा। राज्य के विभिन्न जिलों से आए पंच-सरपंच एवं अन्य प्रतिनिधि राजधानी एवं नया रायपुर के विकास कार्यों का अवलोकन करते हैं। साईंस सेंटर में विज्ञान के अविष्कारों से कुछ नया अनुभव मिलता है, विधानसभा और मंत्रालय में संसदीय प्रणाली तथा प्रशासनिक कामकाज के बारे में जानकारी मिलती है। भव्य क्रिकेट स्टेडियम देखना बेहद सुखद लगता है। फाइव-डी डोम थियेटर में प्रदेश के विकास और योजनाओं की झलक देखने को मिलती है। कृषि विश्वविद्यालय में खेती-किसानी से जुड़े प्रतिनिधियों के लिए जानकारी का खजाना है।बलरामपुर-रामानुजगंज, गरियाबंद एवं राजनादगांव जिले से अध्ययन-भ्रमण यात्रा पर आए पंचायत प्रतिनिधियों ने राजधानी एवं नया रायपुर के विकसित स्थलों का अवलोकन किया|

13-14 जून 2018, कांकेर जिले की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों ने देखा “हमर छत्तीसगढ़"

गांव से शहर तक विकास का पैगाम ... हमर छत्तीसगढ़ योजना यानि प्रदेश के हर गांव में विकास का पैगाम, साथ ही क्षेत्र के बेहतर विकास के लिए प्रेरणा और ऊर्जा। राज्य के विभिन्न जिलों से आए पंच-सरपंच एवं अन्य प्रतिनिधि राजधानी एवं नया रायपुर के विकास कार्यों का अवलोकन करते हैं। साईंस सेंटर में विज्ञान के अविष्कारों से कुछ नया अनुभव मिलता है, विधानसभा और मंत्रालय में संसदीय प्रणाली तथा प्रशासनिक कामकाज के बारे में जानकारी मिलती है। भव्य क्रिकेट स्टेडियम देखना बेहद सुखद लगता है। फाइव-डी डोम थियेटर में प्रदेश के विकास और योजनाओं की झलक देखने को मिलती है। कृषि विश्वविद्यालय में खेती-किसानी से जुड़े प्रतिनिधियों के लिए जानकारी का खजाना है। कांकेर एवं रायगढ़ जिले से अध्ययन-भ्रमण यात्रा पर आए पंचायत प्रतिनिधियों ने राजधानी एवं नया रायपुर के विकसित स्थलों का अवलोकन किया|

13-14 जून 2018, गरियाबंद जिले की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों ने देखा “हमर छत्तीसगढ़"

गांव से शहर तक विकास का पैगाम ... हमर छत्तीसगढ़ योजना यानि प्रदेश के हर गांव में विकास का पैगाम, साथ ही क्षेत्र के बेहतर विकास के लिए प्रेरणा और ऊर्जा। राज्य के विभिन्न जिलों से आए पंच-सरपंच एवं अन्य प्रतिनिधि राजधानी एवं नया रायपुर के विकास कार्यों का अवलोकन करते हैं। साईंस सेंटर में विज्ञान के अविष्कारों से कुछ नया अनुभव मिलता है, विधानसभा और मंत्रालय में संसदीय प्रणाली तथा प्रशासनिक कामकाज के बारे में जानकारी मिलती है। भव्य क्रिकेट स्टेडियम देखना बेहद सुखद लगता है। फाइव-डी डोम थियेटर में प्रदेश के विकास और योजनाओं की झलक देखने को मिलती है। कृषि विश्वविद्यालय में खेती-किसानी से जुड़े प्रतिनिधियों के लिए जानकारी का खजाना है।गरियाबंद, बलरामपुर- रामानुजगंज एवं राजनांदगाँव जिले से अध्ययन-भ्रमण यात्रा पर आए पंचायत प्रतिनिधियों ने राजधानी एवं नया रायपुर के विकसित स्थलों का अवलोकन किया|

13-14 जून 2018, रायगढ़ जिले की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों ने देखा “हमर छत्तीसगढ़"

गांव से शहर तक विकास का पैगाम ... हमर छत्तीसगढ़ योजना यानि प्रदेश के हर गांव में विकास का पैगाम, साथ ही क्षेत्र के बेहतर विकास के लिए प्रेरणा और ऊर्जा। राज्य के विभिन्न जिलों से आए पंच-सरपंच एवं अन्य प्रतिनिधि राजधानी एवं नया रायपुर के विकास कार्यों का अवलोकन करते हैं। साईंस सेंटर में विज्ञान के अविष्कारों से कुछ नया अनुभव मिलता है, विधानसभा और मंत्रालय में संसदीय प्रणाली तथा प्रशासनिक कामकाज के बारे में जानकारी मिलती है। भव्य क्रिकेट स्टेडियम देखना बेहद सुखद लगता है। फाइव-डी डोम थियेटर में प्रदेश के विकास और योजनाओं की झलक देखने को मिलती है। कृषि विश्वविद्यालय में खेती-किसानी से जुड़े प्रतिनिधियों के लिए जानकारी का खजाना है।रायगढ़एवं कांकेर जिले से अध्ययन-भ्रमण यात्रा पर आए पंचायत प्रतिनिधियों ने राजधानी एवं नया रायपुर के विकसित स्थलों का अवलोकन किया|

13-14 जून 2018, स्व सहायता समूहों की महिला पदाधिकारियों को मिली योजनाओं की जानकारी ....

हमर छत्तीसगढ़ योजना के अंतर्गत दो दिवसीय अध्ययन यात्रा पर नया रायपुर आई रायगढ़, गरियाबंद, कांकेर एवं बलरामपुर- रामानुजगंज जिलों की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों ने योजना के उपरवारा स्थित आवासीय परिसर में प्रशिक्षण सत्र का लाभ लिया| कार्यक्रम में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के विकास विस्तार अधिकारी श्री जयंत कुमार मिश्र ने महिला पदाधिकारियों को हमर छत्तीसगढ़ योजना के अंतर्गत दिखाए जाने वाले विभिन्न स्थलों की जानकारी दी| उन्होंने बताया कि हमर छत्तीसगढ़ योजना का उद्देश्य आप पदाधिकारियों को रायपुर के विकास से रूबरू कराना है| जिससे की आप अपने गाँव जाकर अपने गाँव का विकास कर सकें साथ ही यहाँ मिली योजनाओं की जानकारी का लाभ हितग्राही को दिला सकें| श्री मिश्र ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय कौशल विकास योजना की जानकारी देते हुए बताया कि इस योजना के अंतर्गत गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे 15 से 35 वर्ष के ग्रामीण युवाओं को विभिन्न व्यवसायों का प्रशिक्षण देकर रोजगार के अवसर उपलब्ध कराया जाता है| साथ ही श्री मिश्र ने श्रम विभाग द्वारा संचालित राजमाता विजयाराजे सामूहिक विवाह योजना, भगिनी प्रसूति सहायता योजना आदि अन्य लोक कल्याण कारि योजनाओं की विस्तृत जानकारी दी|

11-12 जून 2018, समूह चर्चा कार्यक्रम ....

हमर छत्तीसगढ़ योजना के अंतर्गत दो दिवसीय अध्ययन प्रवास पर आयीं बस्तर, कोरिया, दंतेवाड़ा एवम रायपुर जिलों की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों ने योजना के उपरवारा स्थित आवासीय परिसर में आयोजित होने वाले प्रशिक्षण सत्र में हिस्सा लिया। कार्यक्रम में विकास विस्तार अधिकारी श्री जे.के मिश्र ने चर्चा में शामिल पदाधिकारियों को हमर छत्तीसगढ़ योजना के अंतर्गत दिखाए जाने वाले विभिन्न स्थलों की जानकारी दी| उन्होंने बताया कि हमर छत्तीसगढ़ योजना का उद्देश्य आप पदाधिकारियों को रायपुर के विकास से रूबरू कराना है| साथ ही योजना के अंतर्गत आयोजित होने वाले लाइट एन्ड साउंड, सांस्कृतिक संध्या कार्यक्रम एवम समूह चर्चा कार्यक्रमों के माध्यम से आप सभी को केंद्र व राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं की जानकारी उपलब्ध कराना है। कार्यकम में विधिक सेवा प्राधिकरण के रायपुर पैनल अधिवक्ता श्री शाहिर लुधियानवी खान ने विधिक सहायता की जानकारी देते हुए बताया कि बहुत से मुद्दे ऐसे हैं, जिनका निपटारा आप चाहें, तो आपस मे सुलझा सकते हैं। जो लोग आर्थिक अभाव के चलते केस नहीं लड़ सकते हैं, उनके लिए विधिक सहायता क्लिनिक की व्यवस्था की गई है। श्री खान ने लोक अदालत, टोनही प्रताड़ना एक्ट, गरीबी उन्मूलन एवम पाक्सो एक्ट पर महिला पदाधिकारियों से विस्तार से चर्चा की। कार्यक्रम में सहायक विकास विस्तार अधिकारी श्री उदयराम कामड़े उपस्थित रहे।

11-12 जून 2018, कोरिया जिले की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों ने देखा “हमर छत्तीसगढ़"

गांव से शहर तक विकास का पैगाम ... हमर छत्तीसगढ़ योजना यानि प्रदेश के हर गांव में विकास का पैगाम, साथ ही क्षेत्र के बेहतर विकास के लिए प्रेरणा और ऊर्जा। राज्य के विभिन्न जिलों से आए पंच-सरपंच एवं अन्य प्रतिनिधि राजधानी एवं नया रायपुर के विकास कार्यों का अवलोकन करते हैं। साईंस सेंटर में विज्ञान के अविष्कारों से कुछ नया अनुभव मिलता है, विधानसभा और मंत्रालय में संसदीय प्रणाली तथा प्रशासनिक कामकाज के बारे में जानकारी मिलती है। भव्य क्रिकेट स्टेडियम देखना बेहद सुखद लगता है। फाइव-डी डोम थियेटर में प्रदेश के विकास और योजनाओं की झलक देखने को मिलती है। कृषि विश्वविद्यालय में खेती-किसानी से जुड़े प्रतिनिधियों के लिए जानकारी का खजाना है। कोरिया एवं दंतेवाडा जिले से अध्ययन-भ्रमण यात्रा पर आए पंचायत प्रतिनिधियों ने राजधानी एवं नया रायपुर के विकसित स्थलों का अवलोकन किया|

महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों को मिली विभिन्न कृषि योजनाओं की जानकारी...

बस्तर, कोरिया एवं दंतेवाड़ा जिलों की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों ने कृषि विभाग की विभिन्न योजनाओं की जानकारी ली| हमर छत्तीसगढ़ योजना के अन्तरगत दो दिवसीय अध्ययन यात्रा पर नया रायपुर आईं विभिन्न जिलों की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों को ये जानकारी योजना के आवासीय परिसर में प्रशिक्षण सत्र के दौरान मिली| सत्र में विकास विस्तार अधिकारी श्री जयंत कुमार मिश्र ने महिला पदाधिकारियों को सरकार के कृषि विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी| उन्होंने शाकम्भरी योजना की जानकारी देते हुए बताया कि योजना के तहत कूप निर्माण के लिए हितग्राही को 2,2500 की राशि प्रदान की जाती है| साथ ही श्री मिश्र ने पदाधिकारियों को विभिन्न लोक कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी| कार्यक्रम में प्रभारी अधिकारी, हमर छत्तीसगढ़ योजना श्रीमती शिवानी श्रीवास्तव ने महिला पदाधिकारियों को पर्यटन मंत्रालय द्वारा प्रायोजित हुनर से रोज़गार तक प्रशिक्षण कार्यक्रम की विस्तृत जानकारी दी| श्रीमती शिवानी ने बताया कि कार्यक्रम में सम्मिलित प्रतिभागियों को खाद्य उत्पादन, खाद्य एवं पेय सेवा एवं हाउसकीपिंग पर 2 से 3 माह का निशुल्क प्रशिक्षण दिया जाएगा| इसके लिए आप छत्तीसगढ़ टूरिज्म बोर्ड की वेबसाईट www.tourism.cg.gov.in पर जाकर आवेदन कर सकते हैं| कार्यक्रम में सहायक विकास विस्तार अधिकारी श्री उदयराम कामड़े उपस्थित रहे|

11-12 जून 2018, दंतेवाडा जिले की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों ने देखा “हमर छत्तीसगढ़"

गांव से शहर तक विकास का पैगाम ... हमर छत्तीसगढ़ योजना यानि प्रदेश के हर गांव में विकास का पैगाम, साथ ही क्षेत्र के बेहतर विकास के लिए प्रेरणा और ऊर्जा। राज्य के विभिन्न जिलों से आए पंच-सरपंच एवं अन्य प्रतिनिधि राजधानी एवं नया रायपुर के विकास कार्यों का अवलोकन करते हैं। साईंस सेंटर में विज्ञान के अविष्कारों से कुछ नया अनुभव मिलता है, विधानसभा और मंत्रालय में संसदीय प्रणाली तथा प्रशासनिक कामकाज के बारे में जानकारी मिलती है। भव्य क्रिकेट स्टेडियम देखना बेहद सुखद लगता है। फाइव-डी डोम थियेटर में प्रदेश के विकास और योजनाओं की झलक देखने को मिलती है। कृषि विश्वविद्यालय में खेती-किसानी से जुड़े प्रतिनिधियों के लिए जानकारी का खजाना है।दंतेवाडा एवं कोरिया जिले से अध्ययन-भ्रमण यात्रा पर आए पंचायत प्रतिनिधियों ने राजधानी एवं नया रायपुर के विकसित स्थलों का अवलोकन किया|

11-12 जून 2018, धमतरी जिले की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों ने देखा “हमर छत्तीसगढ़"

गांव से शहर तक विकास का पैगाम ... हमर छत्तीसगढ़ योजना यानि प्रदेश के हर गांव में विकास का पैगाम, साथ ही क्षेत्र के बेहतर विकास के लिए प्रेरणा और ऊर्जा। राज्य के विभिन्न जिलों से आए पंच-सरपंच एवं अन्य प्रतिनिधि राजधानी एवं नया रायपुर के विकास कार्यों का अवलोकन करते हैं। साईंस सेंटर में विज्ञान के अविष्कारों से कुछ नया अनुभव मिलता है, विधानसभा और मंत्रालय में संसदीय प्रणाली तथा प्रशासनिक कामकाज के बारे में जानकारी मिलती है। भव्य क्रिकेट स्टेडियम देखना बेहद सुखद लगता है। फाइव-डी डोम थियेटर में प्रदेश के विकास और योजनाओं की झलक देखने को मिलती है। कृषि विश्वविद्यालय में खेती-किसानी से जुड़े प्रतिनिधियों के लिए जानकारी का खजाना है।धमतरी एवं रायपुर जिले से अध्ययन-भ्रमण यात्रा पर आए पंचायत प्रतिनिधियों ने राजधानी एवं नया रायपुर के विकसित स्थलों का अवलोकन किया|

11-12 जून 2018, बस्तर जिले की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों ने देखा “हमर छत्तीसगढ़"

गांव से शहर तक विकास का पैगाम ... हमर छत्तीसगढ़ योजना यानि प्रदेश के हर गांव में विकास का पैगाम, साथ ही क्षेत्र के बेहतर विकास के लिए प्रेरणा और ऊर्जा। राज्य के विभिन्न जिलों से आए पंच-सरपंच एवं अन्य प्रतिनिधि राजधानी एवं नया रायपुर के विकास कार्यों का अवलोकन करते हैं। साईंस सेंटर में विज्ञान के अविष्कारों से कुछ नया अनुभव मिलता है, विधानसभा और मंत्रालय में संसदीय प्रणाली तथा प्रशासनिक कामकाज के बारे में जानकारी मिलती है। भव्य क्रिकेट स्टेडियम देखना बेहद सुखद लगता है। फाइव-डी डोम थियेटर में प्रदेश के विकास और योजनाओं की झलक देखने को मिलती है। कृषि विश्वविद्यालय में खेती-किसानी से जुड़े प्रतिनिधियों के लिए जानकारी का खजाना है। बस्तर एवं रायपुर जिले से अध्ययन-भ्रमण यात्रा पर आए पंचायत प्रतिनिधियों ने राजधानी एवं नया रायपुर के विकसित स्थलों का अवलोकन किया|

6-7 जून 2018, समूह चर्चा...

बिलासपुर, कांकेर, राजनांदगाँव एवं बलरामपुर-रामानुजगंज जिलों की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों ने आवासीय परिसर में आयोजित समूह चर्चा कार्यक्रम में हिस्सा लिया| ये महिला पदाधिकारी हमर छत्तीसगढ़ योजना के अंतर्गत दो दिवसीय अध्ययन प्रवास पर नया रायपुर आई हुई हैं| कार्यक्रम में विकास विस्तार अधिकारी श्री जे.के मिश्र ने महिला पदाधिकारियों को केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा संचालित विभिन्न लोक कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी| श्री मिश्र ने श्रम विभाग द्वारा संचालित राजमाता विजयाराजे सामूहिक विवाह योजना की जानकारी देते हुए बताया कि इस योजना के अंतर्गत 12 वीं तक अध्ययनरत हितग्राही को 15,000 रुपये एवं १२ वीं से अधिक पढ़ी लिखी कन्या को 20,000 रुपये की राशि प्रदान की जाती है| साथ ही श्री मिश्र ने भगिनी प्रसूति योजना, नौनिहाल छात्रवृत्ति योजना आदि की विस्तृत जानकारी दी| कार्यक्रम में विषय विशेषज्ञ के रूप में उपस्थित राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के ए. एस. पी. एम. श्री निर्मल प्रसाद ने चर्चा में शामिल महिला पदाधिकारियों से राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (विहान योजना) पर विस्तार से चर्चा की| उन्होंने बताया कि योजना का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को स्व रोजगार के अवसर उपलब्ध कराकर गरीबी दूर करना है|

6-7 जून 2018, गरियाबंद जिले की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों ने देखा “हमर छत्तीसगढ़

गांव से शहर तक विकास का पैगाम ... हमर छत्तीसगढ़ योजना यानि प्रदेश के हर गांव में विकास का पैगाम, साथ ही क्षेत्र के बेहतर विकास के लिए प्रेरणा और ऊर्जा। राज्य के विभिन्न जिलों से आए पंच-सरपंच एवं अन्य प्रतिनिधि राजधानी एवं नया रायपुर के विकास कार्यों का अवलोकन करते हैं। साईंस सेंटर में विज्ञान के अविष्कारों से कुछ नया अनुभव मिलता है, विधानसभा और मंत्रालय में संसदीय प्रणाली तथा प्रशासनिक कामकाज के बारे में जानकारी मिलती है। भव्य क्रिकेट स्टेडियम देखना बेहद सुखद लगता है। फाइव-डी डोम थियेटर में प्रदेश के विकास और योजनाओं की झलक देखने को मिलती है। कृषि विश्वविद्यालय में खेती-किसानी से जुड़े प्रतिनिधियों के लिए जानकारी का खजाना है। गरियाबंद, राजनांदगांव एवं बलरामपुर-रामानुजगंज जिले से अध्ययन-भ्रमण यात्रा पर आए पंचायत प्रतिनिधियों ने राजधानी एवं नया रायपुर के विकसित स्थलों का अवलोकन किया|

6-7 जून 2018, बिलासपुर जिले की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों ने देखा “हमर छत्तीसगढ़

गांव से शहर तक विकास का पैगाम ... हमर छत्तीसगढ़ योजना यानि प्रदेश के हर गांव में विकास का पैगाम, साथ ही क्षेत्र के बेहतर विकास के लिए प्रेरणा और ऊर्जा। राज्य के विभिन्न जिलों से आए पंच-सरपंच एवं अन्य प्रतिनिधि राजधानी एवं नया रायपुर के विकास कार्यों का अवलोकन करते हैं। साईंस सेंटर में विज्ञान के अविष्कारों से कुछ नया अनुभव मिलता है, विधानसभा और मंत्रालय में संसदीय प्रणाली तथा प्रशासनिक कामकाज के बारे में जानकारी मिलती है। भव्य क्रिकेट स्टेडियम देखना बेहद सुखद लगता है। फाइव-डी डोम थियेटर में प्रदेश के विकास और योजनाओं की झलक देखने को मिलती है। कृषि विश्वविद्यालय में खेती-किसानी से जुड़े प्रतिनिधियों के लिए जानकारी का खजाना है। बिलासपुर एवं कांकेर जिले से अध्ययन-भ्रमण यात्रा पर आए पंचायत प्रतिनिधियों ने राजधानी एवं नया रायपुर के विकसित स्थलों का अवलोकन किया|

6-7 जून 2018, समूह चर्चा कार्यक्रम...

हमर छत्तीसगढ़ योजना के अंतर्गत दो दिवसीय अध्ययन प्रवास पर नया रायपुर आयीं धमतरी, बस्तर, सरगुजा, एवं बलौदाबाजार- भाटापारा जिलों की महिला पदाधिकारियों ने अपने प्रवास के दूसरे व अंतिम दिन आवासीय परिसर में समूह चर्चा कार्यक्रम में भाग लिया| कार्यक्रम में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के विकास विस्तार अधिकारी श्री जे.के मिश्र ने चर्चा में सम्मिलित पदाधिकारियों को केंद्र व राज्य सरकार द्वारा संचालित विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी| श्री मिश्र ने पदाधिकारियों को पंडित दीनदयाल उपाध्याय कौशल विकास योजना की जानकारी देते हुए बताया कि इस योजना के अंतर्गत गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे 15 से 35 वर्ष के ग्रामीण युवाओं को विभिन्न व्यवसायों का प्रशिक्षण देकर रोजगार के अवसर उपलब्ध कराया जाता है| साथ ही श्री मिश्र ने पदाधिकारियों को पर्यावरण दिवस की जानकारी दी| इस दौरान अध्ययन प्रवास पर आयीं महिला पदाधिकारियों ने हमर छत्तीसगढ़ योजना में बिताए अपने दो दिवसीय अध्ययन यात्रा के अनुभव बांटे|

6-7 जून 2018, समूह चर्चा कार्यक्रम...

हमर छत्तीसगढ़ योजना के अंतर्गत दो दिवसीय अध्ययन प्रवास पर नया रायपुर आयीं धमतरी, बस्तर, सरगुजा, एवं बलौदाबाजार- भाटापारा जिलों की महिला पदाधिकारियों ने अपने प्रवास के दूसरे व अंतिम दिन आवासीय परिसर में समूह चर्चा कार्यक्रम में भाग लिया| कार्यक्रम में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के विकास विस्तार अधिकारी श्री जे.के मिश्र ने चर्चा में सम्मिलित पदाधिकारियों को केंद्र व राज्य सरकार द्वारा संचालित विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी| श्री मिश्र ने पदाधिकारियों को पंडित दीनदयाल उपाध्याय कौशल विकास योजना की जानकारी देते हुए बताया कि इस योजना के अंतर्गत गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे 15 से 35 वर्ष के ग्रामीण युवाओं को विभिन्न व्यवसायों का प्रशिक्षण देकर रोजगार के अवसर उपलब्ध कराया जाता है| साथ ही श्री मिश्र ने पदाधिकारियों को पर्यावरण दिवस की जानकारी दी| इस दौरान अध्ययन प्रवास पर आयीं महिला पदाधिकारियों ने हमर छत्तीसगढ़ योजना में बिताए अपने दो दिवसीय अध्ययन यात्रा के अनुभव बांटे|

4-5 जून 2018, बिलासपुर जिले की महिला स्व सहायता समूहों की पदाधिकारियों ने देखा “हमर छत्तीसगढ़

गांव से शहर तक विकास का पैगाम ... हमर छत्तीसगढ़ योजना यानि प्रदेश के हर गांव में विकास का पैगाम, साथ ही क्षेत्र के बेहतर विकास के लिए प्रेरणा और ऊर्जा। राज्य के विभिन्न जिलों से आए पंच-सरपंच एवं अन्य प्रतिनिधि राजधानी एवं नया रायपुर के विकास कार्यों का अवलोकन करते हैं। साईंस सेंटर में विज्ञान के अविष्कारों से कुछ नया अनुभव मिलता है, विधानसभा और मंत्रालय में संसदीय प्रणाली तथा प्रशासनिक कामकाज के बारे में जानकारी मिलती है। भव्य क्रिकेट स्टेडियम देखना बेहद सुखद लगता है। फाइव-डी डोम थियेटर में प्रदेश के विकास और योजनाओं की झलक देखने को मिलती है। कृषि विश्वविद्यालय में खेती-किसानी से जुड़े प्रतिनिधियों के लिए जानकारी का खजाना है। बिलासपुर एवं कांकेर जिले से अध्ययन-भ्रमण यात्रा पर आए पंचायत प्रतिनिधियों ने राजधानी एवं नया रायपुर के विकसित स्थलों का अवलोकन किया|


Previous12345...9091Next